जीव विज्ञान (Biology) - Jiv Vigyan

Jiv Vigyan

जीव विज्ञान (Biology)

विज्ञान की वह शाखा जिसमे जीवों के बारे में अध्ययन किया जाता है, उस विज्ञान की शाखा को ही जीव विज्ञान कहते है।

इसमें सजीवो के शरीर की बनावट, कार्य प्रणाली, प्रत्येक अंग की जानकारी तथा कार्य इत्यादि का कार्य जीव विज्ञान शाखा में किया जाता है।

जीव विज्ञान को दो भागों में विभाजित किया जाता है - 1. वनस्पति विज्ञान (Botany) 2. जन्तु विज्ञान (Zoology)
वनस्पति विज्ञान के जनक थियोफ़्रैस्टस हैं तथा जन्तु विज्ञान के जनक अरस्तू हैं।

जीव विज्ञान की विभिन्न शाखाओ के जनक

# शाखा जनक
1. जीव विज्ञान अरस्तू
2. सुजननिकी एफ. गाल्टन
3. प्रतिरक्षा विज्ञान एडवर्ड जैनर
4. आधुनिक आनुवंशिकी टी. एच. मॉर्गन
5. पादप शारीरिकी एन. गिऊ
6. चिकित्साशास्त्र हिप्पोक्रेटस
7. उत्परिवर्तन सिद्धान्त हयूगो डी ब्राइज़
8. कवक विज्ञान माइकेली
9. जीवाणु विज्ञान ल्यूवेन हॉक
10. भारतीय कवक विज्ञान ई. जे. बुटलर
11. भारतीय परिस्थितिकी आर. मिश्रा
12. आधुनिक भ्रूण विज्ञान वॉन बेयर
13. जीवाश्मिकी लियोनार्डो दी विन्सी
14. आधुनिक वनस्पति विज्ञान लीनियस
15. आनुवांशिकी ग्रेगर जॉन मेंडल
16. कोशिका विज्ञान राबर्ट हुक
17. वर्गिकी लीनियस
18. औतिकी मार्सेलो मैल्पीगी
19. तुलनात्मक शारीरिकी जी. क्यूवियर
20. पादप कार्ययिकी स्टीफन हेल्स
21. सूक्ष्म जीव विज्ञान लुईस पाश्चर
22. भारतीय ब्रायोलोजी आर. एम. कश्यप
23. भारतीय शैवाल विज्ञान एम. ओ. ए. आयंगर

जीव विज्ञान से संबन्धित शाखाएँ

  • जैव रसायन (Bio-chemistry): इसमें जीवधारियों के रासायनिक घटकों तथा रासायनिक प्रक्रियाओं का अध्ययन किया जाता है।
  • जैव सांख्यकी (Bio-metrics): इसमें जैव क्रियाओं और उनके प्रमाणों का गणितीय विश्लेषण किया जाता हैं।
  • जीव भौतिकी (Bio-physics): इसमें भौतिक सिद्धांतों एवं विविधता के आधार पर जैविक क्रियाओं का अध्ययन किया जाता हैं।
  • आण्विक जीव विज्ञान (Molecular Biology): इसमें जीवधारियों का रासायनिक स्तर पर अध्ययन किया जाता है।
  • आनुवांशिक इंजीनीयरिंग (Genetic Engineering): इसमें आनुवांशिक पदार्थों के उपयोग और संयोजन द्वारा नए आनुवांशिक लक्षणों वाले जीवधारियों के निर्माण का अध्ययन किया जाता है।

सामान्य जीव विज्ञान के टॉपिक

1. वनस्पति विज्ञान (Botany)

  1. कोशिका विज्ञान (Cytology)
  2. कवक (Fungi)
  3. शैवाल (Algae)
  4. विषाणु (Virus)
  5. जीवाणु (Bacteria)
  6. पादप जगत (Plant Kingdom)
  7. आकारिकी (Morphology)
  8. पादप ऊतक (Plant Tissue)
  9. पादप शरीर क्रिया विज्ञान (Plant Physiology)
  10. प्रकाश शंश्लेषण (Photo Synthesis)
  11. पौधों में श्वसन (Plant Respiration)
  12. पादप (Plant)
  13. आनुवंशिकी (Genetics)
  14. मानव आनुवंशिकी (Human Genetics)
  15. रुधिर वर्ग (Blood Group)
  16. परिस्थितिकी तंत्र (Ecology)

2. जन्तु विज्ञान (Zoology)

  1. जन्तु ऊतक (Animal Tissue)
  2. मानव शरीर और शरीर क्रिया विज्ञान (Human Body And Human Physiology)
  3. पोषण एवं स्वास्थ्य (Nutrition and Health)
  4. श्वसन (Respiration)
  5. उत्सर्जन (Excretion)
  6. अस्थि तंत्र (Skeletal System)
  7. तंत्रिका तंत्र (Nervous System)
  8. रक्त परिसंचरण तंत्र (Blood Circulatory System)
  9. लसिका परिसंचरण तंत्र (Lymph Circulatory System)
  10. प्रजनन तंत्र (Reproductive System)
  11. हार्मोन (Hormones)
  12. मानव रोग (Human Diseases)
  13. मानव शरीर के विभिन्न तंत्र और उनके कार्य
  14. जन्तु विज्ञान में खोज एवं खोजकर्त्ता
  15. विटामिन - वैज्ञानिक नाम, श्रोत और बीमारियाँ
  16. जीव विज्ञान के महत्वपूर्ण तथ्य (Important Facts of Biology)

विभिन्न विज्ञान के जनक

Galileo Galilei (गैलीलियो गैलिली) को विज्ञान का जनक कहा जाता है जिनका जन्म 15 फरवरी 1564 में हुआ था। वो एक इटालियन Astronomer, महान गणितज्ञ और फिलोस्फर थे, उन्होंने विज्ञान के जगत में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। उनकी मृत्यु 8 जनवरी 1642 में हुई थी।
  • रसायन विज्ञान के जनक:एंटोनी लेवोज़ियर
  • वनस्पति विज्ञान का जनक: ग्रीक विद्वान थियोफ़्रेस्ट्स
  • जीव विज्ञान के जनक: अरस्तू
  • फिजिक्स के जनक(पिता): यह शीर्षक किसी व्यक्ति को नहीं दिया गया है, गैलीलियो गैलीली, सर आइजैक न्यूटन और अल्बर्ट आइंस्टीन सभी को भौतिकी का पिता कहा गया है।
  • जीवाणु विज्ञान के जनक: डच वैज्ञानिक एण्टनी वॉन ल्यूवोनहूक
  • चिकित्सा शास्त्र का जनक: हिप्पोक्रेट्स

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ